महज 1 किलोमीटर की दूरी, घटनास्थल नहीं पहुंची प्रशासन, पेंशन की चाह में तड़प कर वृद्ध की मौत

दुमका: जामा थाना क्षेत्र के लगला पंचायत अंतर्गत पिपरा गांव के स्वर्गीय भोला मांझी की पत्नी को प्रशासन द्वारा बीते दिनों पति के दाह संस्कार और श्राद्ध कर्म करने के लिए सरकारी स्तर से मदद किया गया लेकिन स्वर्गीय भोला मांझी के पत्नी को विधवा पेंशन देने के दिशा में जामा प्रशासन द्वारा कोई पहल नहीं किया गया।
बताते चलें 23 सितंबर को भोला मांझी की मृत्यु लगला पंचायत भवन में आयोजित प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम में वृद्धा पेंशन का आवेदन देकर लौटने के क्रम में सड़क दुघर्टना में होगई।
अत्यंत गरीब भोला मांझी के मरने के बाद विधवा पत्नी के सामने दो जून की रोटी की समस्या खड़ी हो गई है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक पीछले दस वर्षों से वृद्धा पेंशन के लिए आवेदन दे रहा था लेकिन एक बार भी पेंशन नहीं आई बदले में मौत जरुर आ गई।
सबसे दुखद बात यह है कि जिस पंचायत भवन में कार्यक्रम किया गया था वहां से घटना स्थल की दुरी लगभग 1 किलोमीटर से भी कम है लेकिन घटना के बाद वहां एक भी प्रशासनिक अधिकारी नहीं पहुंचे थे।

रिपोर्ट- धनन्जय सिंह Dhananjay Singh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *