राजकीय श्रावणी मेला की तैयारियों को लेकर देवघर उपायुक्त ने किया बैठक, दिए दिशा निर्देश

आज दिनांक 22.06.22 को उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में राजकीय श्रावणी मेला, 2022 के सफल क्रियान्वयन हेतु विभिन्न विभागों द्वारा की जाने वाली तैयारियों व व्यवस्थाओं को लेकर विस्तृत समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। बैठक के दौरान उपायुक्त ने अधिकारियों को स्पष्ट निदेश दिया कि राजकीय श्रावणी मेला की शुरूआत से ठीक पहले सारी तैयारियों को जुलाई के प्रथम सप्ताह तक तक पूरी तरह से पूर्ण कर लें। इस दौरान उपायुक्त ने नगर निगम, स्वास्थ्य विभाग, पेयजल एवं स्वच्छता विभाग, परिहवन विभाग, भवन प्रमंडल विभाग, राष्ट्रीय उच्च पथ विभाग, विद्युत आपूर्ति, वर्क डिविजन, पथ निर्माण विभाग, सूचना जनसम्पर्क विभाग एवं मंदिर से जुड़े विभिन्न कार्यों को लेकर संबंधित विभाग के वरीय अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया।

बैठक के दौरान उपायुक्त ने नगर निगम के अधिकारियों को कड़े शब्दों में निदेशित करते हुए कहा कि कार्यों को गुणवता पूर्ण व तय समय के अनुरूप पूर्ण करने की आवश्यकता है। साथ हीं शिवगंगा सरोवर व मानसिंघी के सफाई से जुड़े कार्यों जल्द से जल्द पूर्ण कर लेने का निदेश दिया। उन्होंने स्वास्थ्य सुविधा को लेकर मेडिसीन की उपलब्धता, चिकित्सकों व स्वास्थ्य कर्मियों की प्रतिनियुक्ति के अलावा एम्बूलेंस की व्यवस्था, मेला क्षेत्र में 29 स्वास्थ्य केन्द्र के निर्माण की स्थिति, मंदिर ट्रामा सेन्टर, पुराने व नये सदर अस्पताल में किये जाने वाले कार्येां को लेकर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा निदेश दिया।
आगे उन्होंने कांवरिया पथ में श्रद्धालुओं की सुवधिा हेतु पेयजल, शौचालय, व आवासन सुविधा के अलावा कांवरिया पथ की मरम्मति व महीन बालू की बिछाव को लेकर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया।
बैठक के दौरान उपायुक्त ने राष्ट्रीय उच्च पथ प्रमण्डल को निदेशित किया गया कि श्रावणी मेला क्षेत्र सें जुड़ी सभी सड़कों को दुरूस्त कर लें एवं मरम्मतिकरण के साथ-साथ सड़क के सौंदर्यीकरण एवं रोड साईनेज पर भी विशेष ध्यान देते हुए सभी कार्य को ससमय पूर्ण कर लें। इसके अलावे भवन निर्माण के कार्यों की समीक्षा करते हुए उपायुक्त द्वारा कहा गया कि कांवरिया रूटलाईन के सभी यात्री शेड और सरकारी भवनों की मरम्मति एवं सौंदर्यीकरण का कार्य भी मेले से पहले पूर्ण कर लिया जाय।

बढ़ती गर्मी को देखते हुए पेयजल, शौचालय व स्नानागार की व्यवस्था को 24×7 दुरूस्त रखने की आवश्यकता: उपायुक्त

श्रावणी मेले के दौरान किये जाने वाले कार्यों की समीक्षा के दौरान उपायुक्त ने कहा कि गर्मी को देखते हुए पेयजल की सुदृढ़ व्यवस्था के साथ-साथ रूटलाईन में इंद्र वर्षा व वरूण वर्षा के साथ-साथ ट्रैक्टर के माध्यम से पानी छिड़काव की व्यापक व्यवस्था की जाय। साथ हीं उपायुक्त ने शिवगंगा के चारों तरफ कपड़े बदलने के लिए शेड का निर्माण एवं शिवगंगा के चारों और सौंदर्यीकरण कार्य के साथ शिवगंगा तालाब की सफाई जल्द से जल्द कराने का निदेश दिया। मेला परिसर में शौचालय, बायोटाॅयलेट व स्नानागार की समुचित व बेहतर व्यवस्था के साथ इसकी सफाई के लिए पालियों में कर्मियों को नियुक्त करने का निदेश दिया गया। उन्होंने मेला के दौरान विद्युत व्यवस्था को सुदृढ़ व र्निबाद्ध विद्युत आपूर्ति को लेकर संबंधित कार्यपालक अभियंता को आवश्यक व उचित दिशा निर्देश दिया गया।

मेला क्षेत्र में खाद्य सामग्रियों की गुणवता पर विशेष निगरानी रखने की आवश्यकताः उपायुक्त

उपायुक्त ने मेला क्षेत्र में खाद्य आपूर्ति से जुड़े सामानों की बिक्री को ध्यान में रखते हुए उसकी गुणवता को बनाये रखने उदेश्य से टीम गठित कर सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में लगातार सैम्पल कलेक्शन व छापेमारी अभियान लगातार करते रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.