देवघर: सेवार्थ के सदस्य चलन्त सेवा शिविर के माध्यम से कर रहे है श्रद्धालुओं की सेवा

विश्वप्रसिद्ध श्रावणी मेला, 2022 के शुरु होने के बाद से लगातार श्रद्धालुओं की भीड़ बढ़ती जा रही है। मेला के 20 दिन गुजर जाने के बाद अभी तक लगभग 26 लाख शिवभक्त बाबा पर जलार्पण कर चुके हैं। जिला प्रशासन पूरी मुस्तैदी से व्यवस्था संभाले नजर आ रही है तो वही पुलिसीया व्यवस्था भी चुस्त दुरुस्त हैं ताकि किसी श्रद्धालु को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो। देवघर के पंडे पुजारी भी अपने कर्तव्य पथ पर दौड़े चले जा रहे हैँ।
इतनी भारी भरकम व्यवस्था के बाद भी श्रावणी मेला में निःशुल्क सेवा शिविर की आवश्यकता किस हद्द तक हैं शायद इसे बखान करने की आवश्यकता नहीं। इन्हीं निःशुल्क सेवा शिविरों की भांति देवघर की सामाजिक संस्था “सेवार्थ” भीड़ से अलग “चलन्त सेवा शिविर” के माध्यम से बाबाधाम आये श्रद्धालुओं को सेवा देने का कार्य कर रही हैं ताकि श्रद्धालु को सेवा हेतु चल कर न आना पड़े वरन हम उनके पास पहुंच उन्हें अपनी सेवाएं उपलब्ध कराएं।


इसी चलन्त सेवा शिविर के माध्यम से सेवार्थ संस्था मेला के शुरूआती दिन से ही देवघर आये श्रद्धालुओं को सेवा के तहत ड्राई फ्रूट, पानी बोतल, सेव, केला, मुरब्बा, थैला के साथ कोरोना से बचाव हेतु फेस मास्क उपलब्ध करा रही हैं।
मौके पर सेवार्थ के अध्यक्ष पवन कुमार टमकोरिया ने बताया कि सेवार्थ द्वारा संचालित चलन्त सेवा शिविर के माध्यम से हर दिन सुबह 6 बजे से और शाम 8 बजे से कांवरिया रूट लाइन, b.ed कॉलेज, रामकृष्ण मिशन विद्यापीठ के गेट के पास, तिवारी चौक, जलसार चिल्ड्रन पार्क इत्यादि स्थानों पर कांवरिया भक्तों की सेवा की जाती है। सोमवारी या विशेष भीड़ को देखते हुए सेवा करने की समयावधि में बदलाव भी किया जाता है।
श्री टमकोरिया ने आगे बताया कि इस सेवा कार्य में सेवार्थ के सक्रिय सदस्य अजीत कुमार पाहुजा, अनिल मोदी, बिट्टू राय, पल्लवी कुमारी, राहुल साह, चंद्रमोहन मोदी, मुकेश मोदी, राजेश सरावगी, जय किशन शर्मा इत्यादि सहित सेवार्थ परिवार के सभी सदस्य लगे हुए हैँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.