दुमका: अभिभावक शिक्षक बैठक (पीटीएम) का आयोजन कर छात्रों एवं विद्यालय के उत्थान के लिए विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई

दुमका: शनिवार को प्लस टू जिला स्कूल, दुमका में अभिभावक शिक्षक बैठक(पीटीएम)का आयोजन कर छात्रों एवं विद्यालय के उत्थान के लिए विभिन्न मुद्दों पर चर्चा कर छात्रों एवं विद्यालय के सर्वांगीण विकास के लिए सामुहिक भागीदारी हेतु संकल्प व्यक्त किया गया। बैठक में आये हुए सभी अभिभावकों एवं अतिथियों का स्वागत बाल संसद के सदस्यों द्वारा किया गया।
प्लस टू जिला स्कूल, दुमका के प्रभारी प्राचार्य डॉ0 सत्येन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि विद्यालय में अध्ययन बच्चों के माता पिता एवं अभिभावकों को बच्चों के शिक्षा से जोड़ने, उन्हें अपने बच्चों के शिक्षा के प्रति संवेदनशील बनाने एवं उनके लर्निंग गैप को कम करने के लिए विद्यालय में अभिभावक शिक्षक बैठक का आयोजन किया गया। प्रभारी प्राचार्य डॉ. सत्येन्द्र ने बताया कि बैठक में छात्र एवं विद्यालय से संबंधित मुख्य मुद्दों जैसे विद्यालय में शत प्रतिशत नामांकन एवं उपस्थिति, छात्रों के लर्निंग गैप को पाटना, अभिभावक शिक्षक सहयोग, परीक्षाओं में बच्चों का प्रदर्शन,खेलों झारखंड में बच्चों एवं माता पिता की भागीदारी पर चर्चा करते हुए विद्यालय में चल रहे व्यवसायिक पाठ्यक्रम के बारे में अभिभावकों को जानकारी दी गई। डॉ. सत्येन्द्र ने अभिभावकों को सुझाव देते हुए कहा कि रोजगार पूरक शिक्षा के लिए अभिभावक अपने बच्चों को व्यवसायकि शिक्षा का विषय में भी नामांकन करवाया सकते हैं।
बैठक में उपस्थित अभिभावकों एवं शिक्षकों को सम्बोधित करते हुए प्रभारी प्राचार्य डॉ0 सत्येन्द्र कुमार सिंह ने कहा कि छात्रों के बौद्धिक के साथ साथ सर्वांगीण विकास के लिए माता पिता, अभिभावक एवं शिक्षक महत्वपूर्ण कड़ी हैं। डॉ. सत्येन्द्र ने कहा कि थोड़ा सा सजग रहकर एवं अपने बच्चों के लिए थोड़ा सा समय निकालकर अभिभावक बच्चों के नैतिक, बौद्धिक एवं शारीरिक विकास में महत्त्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकते हैं। बैठक में उपस्थित पूर्व प्रभारी प्राचार्य दिलीप कुमार झा ने कहा कि बच्चों के पढ़ाई के साथ साथ उनके सर्वांगीण विकास के लिए माता पिता एवं शिक्षकों को आपस मे सामंजस्य बैठा कर कार्य करना होगा। माता पिता एवं अभिभावक को समय समय पर विद्यालय आकर अपने बच्चे के बारे में जानकारी लेनी चाहिए। विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष बादल मराण्डी ने कहा कि अपने बच्चों के सुन्दर भविष्य के लिए माता पिता एवं अभिभावक को कुछ समय निकालना होगा।
बैठक में उपस्थित अभिभावक जमील अख्तर ने कहा कि विद्यालय का समय सारणी 10 बजे पूर्वाहन से 04 बजे अपराहन तक होने से बच्चों को सुविधा होगी। बैठक में अभिभावक शोभारानी केशरी, बुलाकी दास एवं जितेन्द्र कुमार सिंह के अलावे कई अभिभावकों एवं शिक्षकों ने भी अपने विचार व्यक्त किया। मंच संचालन पीजीटी शिक्षक अमित कुमार पाण्डेय ने किया।
बैठक में पूर्व प्रभारी प्राचार्य दिलीप कुमार झा, इंटर संकाय प्रभारी मुदस्सर सुल्तान, शिक्षक महेन्द्रराज हंस, अमित कुमार पाण्डेय, संजीव कुमार सिंह, स्नेहलता मराण्डी, राजीव कुमार गुप्ता, संजय कुमार सिन्हा, प्रदीप कुमार, रूपेश कुमार झा, विजय कुमार दूबे, रंजीत लायक, लखी टूडू, अर्चना कुमारी,दिलीप कुमार, प्रकाश कुमार घोष,विद्यासुन्दर नन्दी, शिवराम सिमोन टुडू,रामप्रसाद यादव, इति कुमारी,राजेश कुमार साह, पार्थ प्रतिम कुंडू, हरेकृष्ण झा, सुबोध कुमार मंडल, सुचरिता मित्रा एवं आराधना कुमारी के अलावे कई अभिभावक मौजूद थे।

रिपोर्ट- आलोक रंजन Alok Ranjan