10-दुमका विधानसभा उप चुनाव में होंगे 11 सखी बूथ तथा 45 मॉडल बूथ

76 मतदान केंद्रों का वेबकास्टिंग हेतु चयन

मतदान की संपूर्ण गतिविधियों पर सीधे भारत निर्वाचन आयोग की निगरानी रहेगी

दुमका विधानसभा उप चुनाव के मद्देनजर जिला निर्वाचन पदाधिकारी राजेश्वरी बी एवं पुलिस अधीक्षक अम्बर लकड़ा की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई।
जिला निर्वाचन पदाधिकारी राजेश्वरी बी ने कहा कि इस दुमका विधानसभा उप चुनाव में 11 सखी बूथ तथा 45 मॉडल बूथ बनाए जाएंगे। इन 11 सखी बूथों पर 4 पोलिंग पर्सन महिलाएं होंगी। साथ ही लगभग 135 मतदान केंद्र में P1,P2 महिलाएं होंगी। इनके रहने, खाने की व्यवस्था ससमय कर लिया जाए। इन बूथों पर सुरक्षा के व्यापक इंतेज़ाम रहेंगे। मतदाताओं को किसी प्रकार की परेशानी नहीं होगी।सभी जरूरी सुविधाएं इन सभी मतदान केंद्र पर उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि साथ ही 45 आदर्श मतदान केंद्र बनाए जाएंगे।इन आदर्श मतदान केंद्रों को बेहतर ढंग से सजाया जाएगा।मतदाताओं के बैठने की व्यवस्था होगी।
जिला निर्वाचन पदाधिकारी राजेश्वरी बी ने कहा कि जिले के लगभग 76 मतदान केंद्रों को वेबकास्टिंग के लिए चिन्हित किया गया है। उन्होंने कहा कि वेबकास्टिंग के माध्यम से मतदान की संपूर्ण गतिविधियों पर सीधे भारत निर्वाचन आयोग की निगरानी रहेगी। उन्होंने प्रखंड विकास पदाधिकारी को निदेश दिया है कि सभी मतदान केंद्रों पर निर्वाचन आयोग के एसओपी का अनुपालन सुनिश्चित किया जाए। वेबकास्टिंग हेतु लगाए जाने वाले कैमरे सही तरीके से लगाए गए हो, इसकी जांच पूर्व में ही कर ली जाए। कैमरा में मतदान केंद्र का नाम एवं विधानसभा क्षेत्र का नाम स्पष्ट रूप से दिखाई दे, इसका ध्यान रखा जाए। उन्होंने कहा कि यह भी ध्यान रखा जाए कि कैमरा ऐसी स्तिथि में अधिष्ठापित हो कि मतदाता द्वारा डाले जाने वाले मत की गोपनीयता बनी रहे। बैलट यूनिट के आसपास मतदाता को छोड़कर किसी भी अन्य व्यक्ति को जाने की अनुमति नहीं दी जाए। उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देश के अनुसार मतदान कर्मी को भी बैलेट यूनिट के समक्ष नहीं जानी है। वे केवल किसी प्रकार की तकनीकी खराबी की स्थिति में ही बैलेट यूनिट के नजदीक जा सकते हैं। पुलिसकर्मी भी कमरे के भीतर प्रवेश नहीं करेंगे। प्रशिक्षण कोषांग द्वारा इस संदर्भ में जानकारी दी जाए। जो भी लोग अबतक लाइसेंसी आर्म्स सरेंडर नहीं किये हैं उन्हें नोटिस भेज, उनपर विधिसम्मत कार्रवाई की जाए।

रिपोर्ट- आलोक रंजन Alok Ranjan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *